≡ Menu






150 सरपंच ने कांग्रेस ज्वाइन करते हुए राहुल को दिया अपना समर्थन, बीजेपी खेमे में दुख का लहर !

मध्यप्रदेश में इस वक़्त कांग्रेस ने अपनी पकड़ मजबूत बना रखी हैं. कांग्रेस को रोकना बीजेपी के बस की बात नहीं हैं. मध्यप्रदेश की जनता अब समझदार हो चली हैं. जनता को अब जुमलेबाजी वाला नेता नहीं बल्कि विकास करने वाला नेता चाहिए. बीते 4 साल में मोदी राज में देश का हालत नर्क जैसा हो गया हैं. माना जा रहा हैं कि आने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस अपनी जीत का परचम लहरा सकती हैं.

– शिवराज सरकार से किसान हैं नाराज़source

हालांकि मध्यप्रदेश में बीते कुछ सालो से बीजेपी की सत्ता हैं. लेकिन हाल में ही लोगो के गुस्सा का अंदाजा शिवराज सरकार के खिलाफ सरेआम विरोध करने से लगाया जा सकता हैं. आये दिन एमपी से किसानो की आत्महत्या की खबर आते रहते हैं. शिवराज सरकार में सबसे ज्यादा किसान परेशान हैं. किसानो को आये नहीं मिल पाने के कारण  मजबूरी में ये कदम उठाते हैं. शिवराज सरकार द्वरा जन आशीर्वाद यात्रा को लोगो ने एकदम से नकार दिया था. इतना ही नही गुस्साए लोगो ने सीएम के उपर जूते, चप्पल की बारिश कर दिया था. किसानों ने कई बार सीएम शिवराज सिंह के पुतले फूंके हैं. इससे साफ़ पता चलता हैं की जनता बीजेपी सरकार से कितना परेशान हैं.

– मध्यप्रदेश में जीत की और बढ़ रही कांग्रेसsource

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि एमपी के छिंदवाड़ा इलाका आजकल सुर्खियो में हैं,क्युकि यहाँ के सांसद कमलनाथ द्वरा जबर्दस्त विकास किया गया हैं. एमपी में  छिंदवाड़ा के विकास मॉडल की चर्चा हर जगह हो रही हैं. कांग्रेस नेता कमल नाथ के नेतृव में छिंदवाड़ा तरक्की की और तेजी से बढ़ रहा हैं. आपको याद दिला दे कि हाल में ही बसपा के दिग्गज नेता देवाशीष जरारिया ने कांग्रेस का हाथ थामा हैं. आने वाले विधानसभा चुनाव में बीजेपी के सामने कांग्रेस अच्छा प्रदर्शन करेगी.

– कांग्रेस में शामिल हुई एक और युवा महिला नेताsource

खबरों की माने तो कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमल नाथ ने मध्य प्रदेश की सबसे कम उम्र की सरपंच कुमारी मोना कौरव को उनके 150 सरपंचों और 100 से अधिक युवा साथियों समेत पार्टी में शामिल किया है. हालांकि राहुल गाँधी और कमलनाथ अपनी तरफ से चुनाव जीतने के लिए जी तोड़ मेहनत कर रहे हैं. माना जा रहा हैं आने वाले चुअनो में इन नेताओ द्वरा किये गए मेहनत जरुर रंग लाएगी. इस बार के चुनाव में बीजेपी को जीतना खाफी मुश्किल होगा.

news source

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment