≡ Menu






समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश ने स्पष्ट कर दिया है देश की सबसे पुरानी पार्टी को कितनी सीटे मिलेंगी !

2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक पार्टियों ने कमर कस ली है. हर कोई अपने अपने स्तर पर चुनाव जीतने की तैयारियां कर रहा है. इस बीच कई नेता दल बदलू नीति का पालन भी कर रहे हैं. भाजपा के कई नेता कांग्रेस में शामिल हुए हैं वहीं कांग्रेस के कुछ दिग्गजों ने भाजपा का हाथ थामा है. लेकिन अभी भी यूपी में गठबंधन को लेकर पेच फंसा हुआ है.

यह है पूरा मामला

source

दरअसल, पिछले दिनों भाजपा को मात देने के लिए यूपी में गठबंधन हुआ था जिसमें कांग्रेस भी शामिल थी, पूरा विपक्ष एक साथ मंच पर देखने को मिला था. लेकिन बीच पार्टियों के बीच कुछ आपसी कलह के कारण खटास आ गई और फिर सबके सूर बदलने लगे. इसी बात को लेकर जब मीडिया कर्मियों ने समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव से सवाल पूछे तो वह नाराज नजर आये.

अखिलेश यादव का बयान

source

जानकारी के लिए आपको बता दें, कि हालहि में खबरें सुनने को मिल रही हैं कि कांग्रेस ने गठबंधन से अपने आप को अलग कर दिया है, जिसको लेकर मीडिया वालों ने अखिलेश यादव से सवाल किया कि क्या कांग्रेस अभी भी गठबंधन का हिस्सा है या नहीं? इसको लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि हाँ कांग्रेस अभी भी गठबंधन का हिस्सा है जिसको यूपी से केवल 2 सीटें दी जाएँगी.

कांग्रेस नेता का जबाव

source

अखिलेश यादव के इस बयान के बाद कांग्रेस के प्रवक्ता अंशु अवस्थी ने जबाव देते हुए कहा कि फ़िलहाल तो कांग्रेस अकेले ही अपने दम पर यूपी में चुनाव लड़ेगी. अगर गठबंधन के साथ कांग्रेस पार्टी जाती है तो उसका फैसला लेने का अधिकार अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी और नेता ज्योतिरादित्य सिंदिया ही लेंगे. यूपी में हमारी महासचिव प्रियंका गांधी के आने से लोगों में अलग ही जोश देखने को मिल रहा है. दोनों पार्टियों की लड़ाई में भाजपा को इससे बहुत बड़ा फायदा मिल सकता है.

news source

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment