≡ Menu



खुलासा : क्या मुसलमानों के पवित्र मक्का में वाकई शिवलिंग हैं? उठ गया रहस्य से पर्दा

देश में इस समय सबसे ज्यादा तादाद में मुस्लिम धर्म के लोग रहते है. वैसे तो हमारे भारत में हिन्दू मुस्लिम, सिख, ईसाई सभी धर्मों के लोग बड़े ही प्यार से रहते है. कहा जाता है कि मुस्लिम धर्म के लोग अपने धर्म को लेकर बहुत ही कट्टर होते है. वो सब कुछ बर्दास्त कर सकते है लेकिन अपने धर्म की बेइज्जती बर्दाश्त नहीं कर सकते है. जैसे हमारे धर्म में चार धामों की धामों की यात्रा करना शुभ माना जाता है, वैसे ही मुस्लिम धर्म में हज की यात्रा को शुभ मना जाता है.

Like कीजिये हमारा फेसबुक पेज

हज क्यों जाते है लोग…

source

जैसा की हम सब जानते है हर धर्म में अलग-अलग मन्यते है. किसी धर्म में लोग भगवान को मानते है, तो किसी धर्म मैं अल्लाह को. लेकिन हर धर्म के लोगों में खून लाल ही बहता है, फिर भी हम आपस में एक दूसरे के बड़े दुश्मन होते है. जिस प्रकार हिन्दू धर्म में मान्यता है की चार धामों की यात्रा करने से इंसान को वो सब कुछ मिल जाता है. वैसे ही मुस्लिम धर्म में मक्का मदीना की यात्रा करने से इंसान को हर वो सुख मिल जाता है. जिसके चाह में वो पूरी जिंदगी बिताना चाहता है.

क्या सच में मक्का मदीना में शिवलिंग है…

source

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि मक्का शब्द की उत्पत्ति मुख शब्द से हुई है. यह मक्का मदीना साउथ अरेबिया में स्थित है. लोगों की मान्यता है कि इस धरती पर इस्लाम का जन्म हुआ है. शायद यही कारन है की इस धरती को मक्का मदीना के नाम से जाना जाता है. बताया जाता है की मक्का में काबा है जिसकी परिक्रमा करने के लिए दूर दराज से मुस्लिम लोग यहाँ आते है. मान्यता यह है कि इसकी परिकर्मा करने से लोगो की ज़िन्दगी सफल हो जाती है.

काबा के 7 चक्कर क्यों लगाते…

source

मान्यता यह है की मक्का मदीना में जो इंसान काबा के 7 चक्कर लगा ले उसके सारे पाप कट जाते है. बताया जाता है कि मक्का मदीना के पहले वहां एक शिव मंदिर था, लेकिन बाद में उस मंदिर को तोड़कर उसे मुस्लिम के लिए धर्म अस्थल बना दिया गया. जानकारों की माने तो मक्का मदीना में अभी भी शिवलिंग के कुछ अंश मौजूद है.

news source

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment