सियासी घमासान हुआ हिंसक, BJP अध्यक्ष के काफिले पर बरसे पत्थर ! जान बचाकर भागे भाजपाई दिग्गज


पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी के राजनितिक लड़ाई एक तरह से हिंसक रूप लेती जा रही हैं. जहाँ मेदिनीपुर में भाजपा प्रदेश के अध्यक्ष और विधायक दिलीप घोष के काफिले पर हमला किया गया. बताया जा रहा हैं की इस हमले में बीजेपी विधायक सहित 8 लोग बुरी तरह से घयल हो गए हैं. जिन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है. खबरों की माने तो घायलों में से 2 की हालत नाजुक हैं.

– सभा स्थल पर जाने के दौरान हुआ हमलाsource

प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष के मुताबिक पार्टी के कई नेता और कार्यकर्ता इस सभा में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे थे. उन्होंने बताया कि इस सभा में शामिल होने के लिए मेरे साथ 7 और कार्यकर्ता मौजूद थे. वहीँ इस हमके के पीछे बीजेपी ने टीएमसी को जिम्मेदार ठहराया है. इस हमले के बाद बीजेपी ने टीएमसी पर आरोप लगाते हुए कहा कि टीएमसी बीजेपी पार्टी को राजनीति में रोकने में नाकाम है इस्ल्ये इस तरह के हमले करवा रही हैं. हमें रोकने के लिए टीएमसी गुंडों का सहारा ले रही हैं.

– तृणमूल कांग्रेस पर लगाया हमला करने का आरोपsource

इस घटना के बाद बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने तृणमूल कांग्रेस पर हमला बोला है. उन्होंने कथिक रूप से आरोप लगाते हुए कहा कि लोकतांत्रिक रूप से हमें रोक पाने में असफल हो रही हैं. शायद इसी लिए टीएमसी हमें डरा धमका कर रोकना चाहती हैं. लेकिन बीजेपी इतनी कमजोर पार्टी नहीं हैं. वो बंगाल में डट कर मुकाबला करेगी. इस घटने के बाद पुरे प्रदेश में हरकंप मचा हुआ हैं.

– तृणमूल कांग्रेस का सफाई आया सामने source

वहीँ दूसरी और टीएमसी के नेता ने इस आरोप को गलत ठहराते हुए ख़ारिज कर दिया हैं. उन्होंने कहा कि इस तरह के हमले में  टीएमसी का कोई कार्यकर्ता शामिल नहीं है. आपको बताते चले कि इस तरह के राजनीतिक हिंसा पश्चिम बंगाल में आम बात हैं. आये दिन इस तरह के घटना देखने को मिल ही जाते हैं. फिलहाल, पूरे मामले की छानबीन की जा रही है.

विडियो देखे :

BJP के प्रदेशाध्यक्ष दिलीप घोष के काफिले पर हमला हुआ

पश्चिम बंगाल के पूर्वी मिदनापुर जिले में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष दिलीप घोष के काफिले पर हमला हुआ। इस हमले घोष सहित भाजपा के सात कार्यकर्ता घायल हुए। #UserGeneratedContent | Manogya Loiwal

Aaj Tak यांनी वर पोस्ट केले सोमवार, १७ सप्टेंबर, २०१८

News Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *