≡ Menu



मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले BJP को झटका, इन ख़ास चुनावों में कांग्रेस की हुई जीत !

इस साल के अंत में 3 राज्यों में विधानसभा के चुनाव होने वाले है.मध्य प्रदेश में नवम्बर के अंत में चुनाव होने के आसार है.हर सर्वे के अनुशार बीजेपी पुन बहुमत में  नज़र आती है .लेकिन राज्यसभा चुनाव के कुछ माह पहले ही नगर पालिका और नगर पंचायत के उप चुनावों के नतीजे से बीजेपी खासी चिंतित होगी .इस चुनाव में कांग्रेस को बड़ी जीत हाथ लगी . नगर पालिका और नगर पंचायत के उप चुनावों में कांग्रेस की जीत देखने लायक थी .एक रिपोर्ट के मुताबिक कांग्रेस को 12 में से 9 पार्षदों को जीत हासिल हुई .

Like कीजिये हमारा फेसबुक पेज

कौन-कौन से राज्यों में होने वाले है चुनाव?source

आपको बता दे की इस साल के अंत में राजस्थान,छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में चुनाव होने है. मध्य प्रदेश में नवम्बर  के अंत में चुनाव होंगे. बीजेपी चाहती है की सारे राज्यों  में एक साथ चुनाव हो जिससे जिसकी लहर होगी उसको पुन बहुमत मिल सकती है.मप्र  में हुए निकाय चुनाव की कुल 14 सीटों में से कांग्रेस को 09 , बीजेपी को 04 और एक सीट निर्दालिये को मिली. कांग्रेस की उमीदवार भाग्यश्री चंचल खत्री को 767 वोट और राधेश्याम शिल्पकार को 169 वोट मिले .

कांग्रेस को निकाय चुनाव में भारी बहुमत

सिंगरौली के वार्ड नंबर 35 में कांग्रेस को 251 वोट मिले वहीं बीजेपी को 201 वोट ही हाथ लगी. इसी  के साथ कांग्रेस को 50 वोटो से बहुमत मिल गई. अनूपपुर-बिजुरी में भाजपा प्रत्याशी संजय कोल 52 मतों से विजयी हुए. सतना नगर निगम वार्ड क्रमांक 10 के चुनाव में भी कांग्रेस 940 वोटों  से जीत हासिल की. इंदौर से राऊ विधानसभा क्षेत्र में जिला पंचायत के वार्ड 3 का नतीजा सबसे चौंकाने वाला रहा. यहां उप चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी जीतू ठाकुर 2294 वोट से जीत हासिल की. बड़े नेताओं और संगठन की मजबूत ताकत के बावजूद राऊ विधानसभा क्षेत्र के  उपचुनाव में भाजपा को मूह की मात खानी पड़ी.

 विधानसभा चुनाव पर इसका असर नहीं पड़ेगा -बीजेपी

उपचुनाव के नतीजे के बाद बीजेपी का कहना है की ये बेहद छोटे स्तर के चुनाव थे , जिसका असर आने वाले विधानसभा चुनाव  पर नहीं पड़ेगा.बीजेपी के प्रवक्ता दीपक विजयवर्गीय के मुताबिक स्थानीय निकाय के जो चुनाव हुए हैं वो पार्षदों के होते हैं और उसमें आपसी संबंध और स्थानीय मुद्दे होते हैं.लेकिन पीर भी हमारी पार्टी क्यों हरी है इसकी समीक्षा की जाएगी.

story source 

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment