≡ Menu






यकीन मानिए मोदी राज में गाय माता की हालत देखकर ‘अंध-भक्त’ भी रोने लगेगा ! देखिये वीडियो

हमारे आँखों के सामने ऐसी रोज ख़बर आती हैं की यहाँ इतने गायो को मारा गया या फिर कहे कि किसी कारन बस मर गई. बिते  4 सालो में बीजेपी के सरकार में हम हिंदू-मुसलमान कर के आपस में लड़े जा रहा हैं. क्या गाय सिर्फ और सिर्फ राजनितिक मुद्दा बन कर रहा गया हैं. गायो को सिर्फ और सिर्फ वोट बैंक के लिए इस्तेमाल किया जा रहा हैं. मोदी के मंत्री या फिर खुद पीएम मोदी गायो को लेकर लम्बी लम्बी बाते करते हैं, लेकिन सच्चाई यही हैं की आज तक मोदी भी गाये को बचाने के लिए किसी प्रकार की कानून पास नहीं कर सके.

– गौ हत्या को लेकर कई आंदोलन हुएsource

भारत में गो हत्या को लेकर कई आंदोलन किये गए. लेकिन इस आंदोलन से कोई ख़ास कामयाबी हासिल नहीं हुआ. इसके पीछे सबसे बड़ी वजह यह भी हो सकता हैं कि उन्हें जनांदोलन का रूप नहीं दिया गया. यहाँ कहना कतई गकत नहीं होगा की ज्यादातर आंदोलन सिर्फ और सिर्फ सियासी फायदा के लिए किया गया था. दुसरे शब्दों में कहे तो अपनी सियासत चमकाने के लिए आंदोलन किया गया था.

-गैर मुस्लिम भी चलाते  है बूचड़खाने 

source

एक रिपोर्ट से खुलासा हुआ हैं कि कई राज्यों में रोज़ हज़ारों गाय काटी जाती हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कई साल पहले हिंदुत्ववादी संगठनों ने इसके ख़िलाफ़ मुहिम भी छेड़ी थी, लेकिन जैसे ही पता चला कि इसका मालिक ग़ैर मुसलमान है तो मुहिम को बंद कर दिया गया.

-बीते 4  सालों में गाय के नाम पर हुई सबसे ज्यादा हत्या 

source

बीते 4 सालो में गायों पर सबसे ज्यादा सियासत हुआ हैं. तमाम कोशिश के बाद भी सरकार पूरी तरह से नाकाम साबित हुई है गो हत्या रोकने में. हैरत की बात यह है कि गौ हत्या पर पाबंदी लगाने की मांग लंबे समय से चली आ रही है. इसके बावजूद अभी तक इस पर कोई विशेष अमल नहीं किया गया.

ज्यादा जानकारी के लिए इस वीडियो को जरुर देखे :

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment