≡ Menu






शहीद दलित सिपाही के परिजनों को 1 करोड़ का मुआवजा देगी दिल्ली की ‘आप’ सरकार

नई दिल्ली। आनंद पर्वत में एक हीटर फैक्ट्री में लगी आग को बुझाने के दौरान बहुजन समाज के होनहार सिपाही विजेंद्र कुमार 1 जून 2017 को शहीद हो गए थे। दिल्ली के गृहमंत्री सत्येंद्र जैन ने बुराड़ी स्थित उनके घर पर जाकर मुलाकात की। उन्होने विजेंद्र के परिजनों को एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया। अमर शहीद को यूथ फॉर बुद्धिस्ट की ओर से भी श्रद्धाजंलि दी गई।

जैन ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आदेशानुसार जल्द की एक सम्मान समारोह का आयोजन कर शहीद के परिवार को आर्थिक सहायता दी जाएगी। उन्होंने बताया कि यह पहला मौका नहीं था जब विजेंद्र कुमार ने बहादुरी का परिचय देते हुए बड़े नुकसान को होने से रोका था। लेकिन, इस बार दुर्भाग्य से उनको अपनी जान गंवानी पड़ी। इस दौरान स्थानीय विधायक संजीव झा भी मौजूद थे।

Delhi Government will pay Rs. 1 crore to martyrs family

बुधवार रात आनंद पर्वत इलाके में एक हीटर फैक्ट्री में लगी आग को बुझाने के दौरान इमारत का पिछला अस्थायी हिस्सा ढह गया था। इसकी चपेट में तीन दमकलकर्मियों समेत 5 लोग आ गए थो। सभी घायलों को तत्काल समीप के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां विजेंद्र पाल सिंह की मौत हो गई थी। हादसे की चपेट में आए दो दूसरे दमकलकर्मियों की पहचान फायर अफसर अवतार सिंह और फायरमैन सुनील कुमार के तौर पर हुई। फायर अफसर अवतार सिंह करीब 50 फीसदी झुलस गए हैं, जबकि फायरमैन सुनील कुमार को प्राइमरी इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

फायर डिपार्टमेंट के अनुसार जिस इमारत में आग लगी थी उसमें हीटर बनाने की फैक्ट्री थी। इमारत के आधे हिस्से में लकड़ी की बल्लियों और टीन शेड के सहारे अस्थायी स्ट्रक्चर तैयार किया गया था। आग बुझाने के दौरान अचानक यह स्ट्रक्चर अचानक ढह गया।

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment