≡ Menu



बड़ी खबर : ईवीएम पर शक की गुंजाइश खत्म करने के लिए चुनाव आयोग ने उठाए ये बड़े कदम, पढ़े !

जैसा की हम सब जानते है, आगामी लोकसभा चुनाव को देखते हुए राजनीति में गर्माहट देखने को मिल रही है. इतना ही नही चुनाव को मध्यनजर देखते हुए अभी से ही राजनीतिक पार्टी चुनाव की तैयारी जोरो शोरो से कर रही है. वहीं आये दिन EVM को लेकर नए नए खुलासे सामने आया रहे है. हाल ही के दिनों में EVM ओ लेकर एक हैरतअंगेज खुलासा हुआ था, इस खुलासे ने राजनीति में हड़कंप मचने का काम किया था.

Like कीजिये हमारा फेसबुक पेज

EVM के दावों की खुली पोल

source

हाल ही के दिनों में EVM को लेकर लंदन के एक हैकर ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए चुनाव आयोग को सवाल के घेरे में खड़ा कर दिया है. बता दे की लंदन के साइबर हैकर ने दावा किया कि साल 2014 के चुनाव में बीजेपी ने EVM हैक करके चुनाव जीती है. इतना ही नहीं हैकर की माने तो भारत की EVM मशीनों के साथ छेड़छाड़ करना संभव है. इस सनसनीखेज खुलासे के बाद चुनाव आयोग और बीजेपी पर सवाल उठाने लगे है.

सवालो के घेरे में चुनाव आयोग

source

सवाल यह नहीं है की EVM के साथ छेड़छाड़ हुआ है या नही. पर असल सवाल यह है कि जब कुछ राजनीतिक पार्टी EVM मशीन को लेकर संदेह जाता रही है, तो चुनाव आयोग इस संदेह को खत्म करने के लिए क्या कुछ कर रही है? हालांकि हैकर के खुलासे के बाद चुनाव आयोग सवालों के घेरे में आ आगयी है. लेकिन चुनाव आयोग पर लगे आरोप को सिरे से खारिज करते हुए EVM को सुरक्षित बताया है.

चुनाव आयोग का बड़ा ऐलान

source

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि चुनाव आयोग ने अपने ऊपर आरोपों को खारिज करते हुए आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर बड़ा ऐलान किया है. चुनाव आयोग के अधिकारी सुनील अरोड़ा ने बताया कि आगामी लोकसभा चुनाव में EVM और VVPAT का इस्तेमाल जारी रखेंगे. हालांकि सुनील ने अपने एक बयान में कहा कि हम इस तरह के आरोपों से डरने वाले नहीं है, EVM के साथ चुनाव होगा, हम बैलेट पेपर का इस्तेमाल नही कर सकते है.

NEWS SOURCE

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment