≡ Menu



शर्मनाक : दुष्कर्म के मामलों में भारत के हालात बदतर, आंकड़े दे रहे हैं गवाही !

इंसानियत को शर्म से तार-तार कर देने वाली कठुआ और उन्नाव जैसी शर्मनाक घटना भारत में आम बात हो गई है. बीजेपी शासित राज्यों में कानून का डर खत्म हो गया हैं. शायद यही कारण हैं कि देश में रे-प जैसी गंभीर घटना दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है. यह विषय देश की सोच पर गहरा असर डाल रहा है. भारत जैसे देश में दुष्कर्म की घटनाओं में बढ़ोतरी होना बेहद चिंता का विषय बन गई है.

Like कीजिये हमारा फेसबुक पेज

दिल्ली है ‘रे-प कैपिटल’

देश की राजधानी दिल्ली में आये दिन इंसानियत को शर्मसार करने देने वाली घटना सामने आती रहती हैं. लेकिन इसके बावजूद भी आरोप पर कोई कदम कदम नहीं उठाया जाता हैं. मतलब साफ है कि लोगों में कानून नाम का दर खत्म हो चुका है. एक आंकड़े के मुताबिक साल 2011 से 2016 के बीच सिर्फ दिल्ली में लगभग महिलाओं के साथ दुष्कर्म के मामलों में 277 फीसदी बढ़ोतरी हुई है. यह आंकड़ा सच में चौंकाने वाला है.

रिपोर्ट में हुआ बड़ा खुलासा source

आपको बता दे की हाल ही में नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 4 सालो में दुष्कर्म की घटनाओं में 61 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है. यह बेहद शर्मनाक बात हैं. इसका मतलब ये हुआ की पीएम मोदी के राज में कानून व्यवस्था पहले से ज्यादा चरमरा गई है. वहीं इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि साल 2016 में करीब 2155 मामले दिल्ली में दर्ज हुए हैं.

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो…source

इस रिपोर्ट की माने तो नाबालिग के साथ दुष्कर्म के मामले में सबसे ज्यादा इजाफा हुआ है. जो की देश के लिए चिंता का विषय है. इस आंकड़े से साफ हो गया है देश में रोजाना करीब 46 से ज्यादा नाबालिग के साथ रे-प किया जाता है. हालांकि रेप जैसी घटना सबसे ज्यादा मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश में हो रही है.

news source 

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment