अभी अभी : सिद्धू पर आरोप लगाने वालों को फारुख अब्दुल्ला ने दिया करारा जबाव सुनकर आप भी हो जायेंगे गद-गद


कहते हैं किसी भी मतभेद की सिस्थ्ती को बातचीत से हल किया जा सकता है और ऐसा ही कुछ इस बार नवजोत सिंह सिद्धू भी करने पाकिस्तान गये थे. पाकिस्तान के नए पीएम उनके अच्छे दोस्त है जिनके बुलाने पर वह वहां गये थे लेकिन साथ ही उन्होंने दोनों देशों के रिश्तों में मजबूती लाने पर भी चर्चा की. लेकिन उनके वहां जाने को लेकर कुछ लोगों ने उन पर गलत टिप्पणियाँ करनी शुरू कर दी.

फारुख अब्दुल्ला ने किया बचावsource

जब  कैबिनेट मंत्री सिद्धू पाकिस्तान के पीएम इमरान से मिलने गये थे तो उन्होंने वहां के आर्मी चीफ को जनरल बाजवा को गले लगाया उसके बाद विवादों का सिलसिला शुरू हो गया. इस मामले में सिद्धू का बचाव करने के लिए जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला सामने आये और उन्होंने कहा यह एक पहल है कि दोनों देशों के बीच रिश्ते फिर से मजबूत हो जाए.

अब्दुल्ला का बयानsource

फारुख अब्दुल्ला ने यह भी कहा कि ‘‘इमरान के पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनने के बाद, हमें पाकिस्तान और भारत के बीच संबंध बेहतर होने की उम्मीद है जो हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि हमारे मसले तभी हल हो पाएंगे, जब दोनों के बीच मित्रतापूर्ण माहौल होगा.’’ हम पाकिस्तान के साथ दोस्ताना संबंध चाहते हैं उम्मीद करता हूँ कि पीएम मोदी इस बात को जरुर समझेंगे.

गले मिलने की थी ये वजहsource

सूत्रों के मुताबिक बताया जा रहा है कि पाकिस्तान सरकार करतारपुर साहिब कॉरिडोर खोलने के लिए राजी हुए हैं, जो बहुत बड़ी बात है. जानकारी के लिए आपको बता दें कि कॉरीडोर को गुरु नानकजी की 550वीं जयंती पर खोला जाएगा. नवजोत सिंह सिद्धू की मानें तो यही वो कारण है जिसकी वजह से उन्होंने 18 अगस्त को जनरल बाजवा को गले लगाया था. उन्होंने यह भी कहा कि पीएम जब पाकिस्तान से आये थे तो पठानकोट हमला हुआ था लेकिन जब मैं आया तो मेरे दोस्त का सन्देश आया कि हम शांति चाहते हैं.

वीडियो:-

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने किया सिद्धू का बचाव

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने किया सिद्धू का बचाव

ABP News यांनी वर पोस्ट केले शनिवार, ८ सप्टेंबर, २०१८

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *