≡ Menu






गौरक्षा के नाम पर हत्या करने वालों को इन संगठनों द्वारा होती हैं फंडिंग, नाम जानकर चौक जायेंगे !

गोरक्षा के नाम पर मॉबलिंचिग देश की सबसे बड़ी सच्चाई हैं. धर्म के नाम पर लोगो को आपस में लड़वाया जाता हैं. इस सब के बीच बड़ा सवाल है कि आखिर ये हिंसा करवाता कौन है? इसी सवाल का जबाब  हमें ABP  न्यूज़ चैनल के पड़ताल से मिला हैं. चलिय जानते हैं आखिर इसके पीछे किसका हाथ हैं.

अज्ञात स्रोत से मिल रहे हैं पैसेsource

इस पड़ताल में में एक बात सामने आय हैं कि मॉब लिंचिंग करने वालों के अकाउंट में पैसा डाल रहा है. शायद इसमें किसी नेता का हाथ भी हो सकता हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि मॉब लिंचिग के तीन दोषियों ने ये कुबूला हैं कि हमें अज्ञात स्रोत से पैसे मिले थे इस काम को अंजाम देने के लिए. आगे की पड़ताल में पता चला कि ”25-25 हजार रुपया सभी लोगों को किसी संगठन के माध्यम से मिला है. आपको बात दू कि तीन दोषियों पर एबीपी न्यूज़ ने पड़ताल की उनके नाम नित्यानंद महतो, विक्की साव और कपिल ठाकुर बताया जा रहा हैं.

नित्यानंद महतों ने क्या बताया?source

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि नित्यानंद महतो खुद को बीजेपी मीडिया प्रभारी बताता हैं. महतो ने बताया कि अलीमुद्दीन हत्याकांड में फंसने के बाद जब वो जेल की सलाखों के पीछे था. उन्ही दिनों उनके बैंक अकाउंट में 25 हजार रूपये आये थे. नित्यानंद ने अलीमुद्दीन हत्याकांड में सफाई देते हुए खुद को निर्दोष बताया.

दूसरे दोषी विक्की साव और कपिल ठाकुर ने क्या बताया?source

वहीँ दूसरी और दो अन्य दोषियों ने भी पैसा मिलने की बात खुद बताया हैं. लेकिन सवाल अभी भी ये हैं की आखिर ये पैसे कौन भेजा हैं. इसका जबाब नहीं दिया. इनके मुताबिक संगठन का नाम नहीं पता हैं.

मॉब लिंचिग को लेकर अदालत सख्तsource

आपको याद दिला दे कि भीड़ तंत्र को रोने के लिए केंद्र और राज्यों सरकार को फटकार  लगायी थी. हालांकि इस मामले को लेकर कोर्ट अभी तक केंद्र को 4 बार  फटकार लगा चुके हैं. लेकिन अभी भी केंद्र पूरी तरह से फ़ैल साबित हो रही हैं.

देखे वीडियो :

घंटी बजाओ: ऑपरेशन अदृश्यम- देखिए गौरक्षा क नाम पर मॉब लिंचिंग की कड़वी हकीकत

घंटी बजाओ: ऑपरेशन अदृश्यम- देखिए गौरक्षा क नाम पर मॉब लिंचिंग की कड़वी हकीकत

Posted by ABP News on Wednesday, October 3, 2018

news source 

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment