≡ Menu






HAL चेयरमैन का खुलासा : मोदी सरकार और रक्षामंत्री देश के लिए नहीं बल्कि अंबानी के लिए काम करती हैं, पढ़े !

राफेल डील मोदी सरकार के लिए दिन प्रति दिन खतरे की घंटी बनती जा रही हैं. आये दिन इसको लेकर नए नए खुलासे सामने आ रहे हैं. एक तरफ जहाँ इसको लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गंभीर लगातार बीजेपी सरकार पर जुबानी हमला बोल रही है. वहीं दूसरी और एचएएल के चेयरमैन में मोदी सरकार की और मुश्किलें बढ़ा दी है. बताया जा रहा है कि चेयरमैन का बयां मोदी के लिए गले का फांस बन सकती हैं.

राफेल डील को लेकर हुआ बड़ा खुलासा source

राफेल डील को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बयान पर अभी तक सियासत में घमासान मचा हुआ है. हालांकि अभी भी यहाँ मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा हैं. वहीँ अब HAL के चेयरमैन में मोदी सरकार की पोल खोल दी हैं. उनके मुताबिक पिछले सौदे को रद्द करने की सूचना हमें नहीं दी गयी थी. आगे कहा कि हम इस मामले में ज्यादा कुछ नहीं बोल सकते हैं, क्युकी अब हम इस सौदे का हिस्सा नहीं हैं.

मोदी सरकार की खुली पोल source

HAL के चेयरमैन के बयान से साफ है कि मतलब साफ़ हैं की मोदी सरकार ने अपने फायदे के लिए कांग्रेस सरकार के समय वाला डील रद्द किया हैं. वहीं देश की रक्षा मंत्री ने अपने बयान में कहा कि राफेल डील में किसी प्रकार का भेद भी नहीं किया गया हैं. हालंकि जब उनसे इसके कीमत पर सवाल किया गया तो उन्होंने बात को टाल मटोल करते हुए घुमा दिया. बता दे कि राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर आये दिन आरोप लगते रहते हैं. राहुल के अनुसार मोदी सरकार ने यह डील अपने चहेते अम्बानी को फयदे पहुँचाने के लिए रद्द किया हैं.

क्या है विवादsource

आपको बता दे की राफेल डील एक लड़ाकू विमान हैं. हालंकि इस विमान को फ्रांस से भारत खरीदने जा रही हैं. लेकिन कांग्रेस लगातार मोदी सरकार पर इस डील को लेकर निशाना साधा रही हैं. राहुल गांधी ने आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी सरकार पहले के मुकाबले ज्यादा कीमत पर विमान की खरीद की गयी है. मतलब यह कि इस डील के पीछे सीधे सीधे अंबानी को फायदा पहुंचने के लिए किया गया है.

NEWS SOURCE 

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment