≡ Menu






लोकसभा चुनाव में ‘आप’ और ‘कांग्रेस’ अब जो निर्णय लेने जा रहे है वो किसी हुकुम के इक्के से कम नहीं !

2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियों कमर कस ली है. हर कोई अपने स्तर पर चुनाव जीतने की तैयारी में लगे हुए हैं. इस बीच कई नेताओं के दल बदलने की खबरों ने भी जनता को हैरान कर रखा है. भाजपा के कई नेता कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गये हैं क्योंकि उन्हें भाजपा में सम्मान नहीं मिल पा रहा था. लेकिन इस बार दिल्ली के गलियारों से एक खबर सुनने को मिली है जो भाजपा को हिला कर रख देगा.

यह है पूरा मामला

source

दरअसल, दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार है लेकिन वह चाहकर भी कुछ नहीं कर पाती क्योंकि केंद्र उनके काम में अटकले खड़ी करता रहता है. इस बात को लेकर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल कई बार केंद्र सरकार पर आरोप लगा चुके हैं. लेकिन इस बार के लोकसभा चुनावों को देखते हुए सुनने को मिला है कि आम आदमी पार्टी और कांग्रेस मिलकर सरकार बना सकते हैं.

शीला दीक्षित ने बुलाई आपातकालीन बैठक

source

जानकारी के लिए आपको बता दें, कि आज दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित ने अपने घर पर आपातकालीन बैठक बुलाई. इस बैठक में दिल्ली के कई बड़े नेता शामिल हुए जिसमें ‘आप’ से गठबंधन करने पर चर्चा हुई. हालांकि अभी तक कोई फैसला नहीं आया है कि कांग्रेस आम आदमी पार्टी के साथ गंठबंधन करेगी या नहीं लेकिन कयास लगाई जा रही है कि दोनों एक साथ मिलकर चुनाव लड़ सकते हैं.

शीला दीक्षित का बयान

source

सूत्रों से पता चला है कि पहले भी शीला दीक्षित अपने बयान में कह चुकी हैं कि इस बार दिल्ली में अकेले सरकार बनाना किसी भी पार्टी के बसकी बात नहीं है, लेकिन मैं गठबंधन के पक्ष में नहीं हूँ. दूसरी तरफ सीएम अरविंद केजरीवाल की तरफ से गठबंधन करने को लेकर कोई बयान सामने नहीं आया है. अब देखना ये दिलचस्प होगा कि क्या दिल्ली में इस बार कोई अकेली पार्टी सरकार बनाएगी या फिर गठबंधन होगा.

source

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment