≡ Menu






मनमोहन बनाम मोदी सरकार, जानिए आखिर किसके शासन में हुई सबसे ज्यादा आतंकी घटनाएं !

बीते 4 सालों में मोदी सरकार सुर्खियों में बने ही रहे. कभी अपने मंत्री के विवादित बयान की वजह से तो कभी अपने कारनामों की वजह से सुर्खियो में छाए हुए रहे. शायद यही वजह से की आज बीजेपी के तमाम मंत्री, नेता को जनता के विरोध का सामना करना पड़ रहा है.इतना ही नहीं मोदी सरकार ने अपने कार्यकाल में मनमोहन सरकार से कई गुना पैसा ज्यादा खर्च कर चुकी है, लेकिन इसके बावजूद मोदी सरकार ने आतंकी हमले कम होने का नाम नही ले रही है.

गृह मंत्रालय की रिपोर्ट में हुआ बड़ा खुलासा

source

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि हाल में ही गृह मंत्रालय ने रिपोर्ट जारी किया है. इस रिपोर्ट के जारी होने के बाद सियासत में हड़कंप मच गया है. हर तरफ इसको लेकर चर्चा बढ़ गयी है. इस रिपोर्ट की माने तो 2014 से लेकर 2018 के बीच कश्मीर में आतंकवादी हमले काफी कम हुए हैं. हाल में ही हुए पुलवामा आतंकी हमले ने सबका दिल देहला दिला था.

जाने किसके शासन में हुई है सबसे ज्यादा आतंकवादी घटनाएं

source

आपको बता दें कि बीते 14 फरवरी को देश में अबतक सा सबसे बड़ा आतंकी हमला हुआ था. इस हमले में हमारे 44 वीर जवान शहीद हो गए थे. इसके साथ ही कई जवान शहीद हो गए थे. हालांकि इसके जबाब ने भले भारत ने एयर स्ट्राइक किया लेकिन, इसके बावजूद पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नही आ रहा है. याद दिला दे कि 2016 में मोदी सरकार ने सर्जिकल स्ट्राइक करके पाकिस्तान को जवाब दिया था.

मनमोहन वर्सेस मोदी सरकार

source

वहीं अगर गृह मंत्रालय द्वारा पेश की गयी रिपोर्ट की बात करे तो 2004 से लेकर 2013 वर्सेस 2014 से लेकर 2018 के मध्य जम्मू कश्मीर में कुल 11447 आतंकवादी आक्रमण हुए. इसमें से करीब 1394 वीर जवान देश के लिए शहीद हो गए थे. वहीं बात करें साल 2003 से 2013 के बीच यानी की मनमोहन सरकार में तो कुल 9739 आतंकवादी हमले हुए.लेकिन यह आंकड़ा मोदी सरकार के राज में चलता चला गया है.

link source

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment