≡ Menu



बड़ा खुलासा : मोदी सरकार के नये भ्रष्टाचार मुक्त भारत में तेल के नाम पर किया गया करोड़ का हाईटेक घोटाला !

जैसा की हम सब जानते है, बीजेपी ने बीते 4 सालों में देश ही हालत बद से बतर करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है. इतना ही नहीं एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि मोदी राज में भ्रष्टाचार पहले के मुकाबले और बाधा है. अब आप खुद ही सोचिये अगर देश की हालत ऐसी ही रहेगी तो अपराधियों के मन तो बढ़ना तय ही है. शायद इसी वजह से मोदी राज में दिन प्रतिदिन एक से बढ़ कर एक घोटाला सामने आ रहा है.

Like कीजिये हमारा फेसबुक पेज

मोदी राज में एक और बड़ा घोटाला

source

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि भले ही मोदी सरकार देश को भ्रष्टाचार से मुक्त करने की बात करते है, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही ब्यान कर रही है. हाल ही में जारी एक रिपोर्ट से पता चला है कि पीएम मोदी के शासनकाल ने देश में सबसे बड़ा घोटाला राफेल डील का हुआ है. इसके बाद राफेल डील घोटाले के बाद एक और बड़ा घोटाला निकल कर सामने आ रहा है. इस घोटाले ने राजनीति में हड़कंप मचाने का काम किया है.

बीजेपी सरकार की बढ़ी मुश्किलें

source

मोदी के शासनकाल में कई ऐसे घोटाले हुए है, जिसका असर आगामी लोकसभा चुनाव में मोदी को भुगतना पड़ सकता है. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि मोदी राज में पीएनबी घोटाला, कोठारी घोटाला, राफेल सौदा जैसी कुछ घोटाले है, जो मोदीसरकार की मुश्किलें बढ़ सकती है. वहीं राफेल डील का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ, तब तक तेल घोटाले में मोदी सरकार घिरती जा रही है.

 Essar को फ़ायदा तो ONGC को नुक़सान

source

खबरों की माने तो साल 2015-2016 में रसियन की तेल कंपनी ने अपने हिस्से का 49% शेयर उत्तरी साइबेरिया और भारतीय तेल कम्पनियों को बेचीं थी. लेकिन रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि भारत की सरकार ने जरूरत से ज्यादा पैसा दे कर यह शेयर खरीदी है. इतना ही नहीं रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि सरकारी कम्पनी ONGC 15 फ़ीसदी हिस्सेदारी 1.25 बिलियन डॉलर  में खरीदना चाहती थी, लेकिन Oil India और भारत पेट्रोलियम ने शेयर 2.1 बिलियन डॉलर में खरीद ली.

news source

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment