≡ Menu






देश के सबसे बड़े घपलेबाज विजय माल्या को लेकर मोदी सरकार ने अब उठाया बहुत बड़ा कदम

भारत अगर विकास की सीढ़ियों पर तेजी से नहीं चढ़ पा रहा है तो उसका सबसे बड़ा कारण है घपलेबाज जो देश को लूट लूट कर खोखला करने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं. आये दिन कई घपले बाज पकड़े जाते हैं जिनको लेकर शायद ही कोई कार्यवाही होती हो क्योंकि उनके जाने वाले पुलिस वाले या राजनेता होते हैं जो उनकी सहायता करने के लिए हमेशा तैयार खड़े रहते हैं.

सारे भगोड़ो पर हो रही कारवाही 

source

अगर घपलेबाजों की बात की जाए तो सबसे पहले जुबां पर विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चौकसी जैसे नाम आते हैं. देश की जनता के साथ करोड़ों का घपला करके विदेश भागने वाले ये लोग अपने आप को बहुत चालाक समझते हैं. लेकिन कहते हैं न कि भगवान के घर में देर है अंधेर नहीं वैसे ही इन घपलेबाजों के पापो का घड़ा जल्द ही फूटेगा. हालहि में एक घपलेबाज माल्या को लेकर हैरान करने वाला मामला देखने को मिला है.

माल्या के करोडो के शेयर बेचे 

source

दरअसल, किंग फिशर का मालिक विजय माल्या भारत को करोड़ों का चुना लगाकर सालों से विदेश में बैठा है, जिसका बदला मोदी सरकार ने ऐसे लिया है. ईडी ने माल्या के द्वारा दिए गये घोटाले की रकम वसूलने के लिए उसके करोड़ों के शेयर्स बेच दिए हैं. इस नीलामी में माल्या के शेयर्स से लगभग 1008 रूपये मिले लेकिन अभी भी हजारों करोड़ का बैंक कर्ज बाकि है. माल्या पर अभी भी कार्यवाही जारी है.

किसी हालत में बचेगा नहीं माल्या

मोदी सरकार माल्या के पिछले इस तरह पड़ी है जिस तरह मधुमखी गुड के पीछे. जब तक माल्या से सारा पैसा वसूल नहीं किया जायेगा मोदी किसी भी हालत में माल्या को छोड़ने वाले नहीं हैं. सूत्रों का ये भी कहना है कि लंदन की कोर्ट ने माल्या के प्रत्यापर्ण की भारत की मांग को स्वीकार कर लिया जिसके बाद माल्या को भारत लाया जायेया. साथ ही साथ आपको ये भी बताते चले कि हिरा कारोबारी नीरव मोदी को लंदन में गिरफ्तार कर लिया गया और अब बारी माल्या की है.

news source

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment