≡ Menu



सर्वे : पीएम मोदी की लोकप्रियता में आई सबसे बड़ी गिरावट, 2019 के लोकसभा चुनावों में घटेंगी इतने सीटें!

देश में चुनाव होते हैं, कोई नया नेता बनता है जनता को फिर धोखा देता है, जनता फिर से नया नेता चुनती है. लेकिन इस बार के लोकसभा चुनाव में पहली बार ऐसा देखने को मिलेगा कि जनता फिर से पुरानी सरकार का चुनाव करेगी, फिर उस सरकार के हाथों में सत्ता सौंपेगी जिसने उसके लिए बिना कुछ बोले काम किया. भारत की जनता का मोदी के बारे में बस इतना कहना है कि “गरजने वाले बादल बरसा नहीं करते” और जो बरसते हैं वो गरजा नहीं करते.

Like कीजिये हमारा फेसबुक पेज

2019 के लोकसभा चुनाव में टक्कर का मुकाबलाsource

भारत में होने वाले 2019 के लोकसभा चुनावों की तैयारियां सभी पार्टियाँ जोरो शोरो से कर रही हैं. लेकिन जनता उसी को देश का अगला पीएम बनाएगी जो वाकई में जनता के हित में काम करेगा. इस बार जुमले बाजी करने से कुछ भी नहीं होने वाला है क्योंकि जनता मोदी सरकार के जुमले सुनकर समझ चुकी है कि ये सरकार कुछ करने वाली नहीं है. कांग्रेस फिर से अपने पांव जमा रही है और इस बार मुकाबला टक्कर का देखने को मिलेगा.

मोदी का वर्चस्व खत्मsource

जानकारी के लिए आपको बता दें, कि अपने भाषणों से वोट अपनी झोली में करने वाले मोदी का जादू अब फीका सा पड़ता दिखाई दे रहा है क्योंकि अब मोदी लहर खत्म हो गई है. अब बीजेपी मोदी को ब्रांड के रूप में नहीं बेच सकती है जनता बीजेपी और मोदी दोनों की गलत मंशा को समझ चुकी है. धीरे-धीरे मोदी की लोकप्रियता गिरती ही जा रही है कई जगहों पर रैलियों में जनता का नामों निशान दिखाई नहीं दिया.

इस नेता ने किया दावाsource

सूत्रों से पता चला है कि आम आदमी पार्टी से निकली स्वराज इंडिया पार्टी के अध्यक्ष योगेन्द्र यादव ने दावा करते हुए कहा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को हार का मुहं देखना पड़ सकता है. मोदी की लोकप्रियता कम होती जा रही है जिसका खामियाजा बीजेपी को कम से कम 100 सीटों को गवाकर भुगतना होगा. इतना ही नहीं योगेन्द्र यादव का ये भी कहना है कि भाजपा इस देश के लिए विनाशकारी है.

News source 

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment