≡ Menu



राजस्थान: कांग्रेस की लहार देख चुनाव से ठीक पहले पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और 9 बार विधायक रहे भाजपाई ने थामा कांग्रेस का हाथ

राजस्थान में विधानसभा चुनाव होने को है. ऐसे में आये दिन बीजेपी के लिए बुरी खबर सामने आती रहती हैं. इसी बीच बीजेपी को एक और बड़ा झटका लगा है. मिली जानकारी के अनुसार 9 बार विधायक रह चुके और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष समेत बीजेपी के 4 बड़े नेता ने कांग्रेस ज्वाइन करने का मन बना लिया हैं. इस बात से बीजेपी खेमे में घमासान मच गया. चलिए जानते हैं पूरा मामला.

Like कीजिये हमारा फेसबुक पेज

बीजेपी को एक और बड़ा झटका source

बीजेपी के लिए राजस्थान से बेहद बुरी खबर सामने आई हैं. खबरों कि माने तो विधानसभा की पूर्व अध्यक्ष सुमित्रा सिंह ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया है. बता दे कि सुमित्रा ने पीसीसी कार्यालय में प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पीसीसी चीफ सचिन पायलट की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कि हैं. इनके अलावा बीजेपी के कुछ और नेता कांग्रेस में शामिल हुए हैं.

कांग्रेस को मिली मजबूती source

बताते चले कि सुमित्रा के अलावा बीजेपी के पूर्व विधायक रविन्द्र बोहरा, उनके पुत्र विवेक बोहरा और अल्पसंख्यक नेता एवं राज्य वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष सलावत खान ने भी कांग्रेस पार्टी सदस्यता ग्रहण किये हैं. बताया जा रहा था कि बीजेपी की तरफ से टिकट न मिलने से सुमित्रा बीजेपी से नाराज़ चल रही थी. सुमित्रा राजस्थान के झुंझुनूं  से 9 बार विधायक रह चुकी हैं. ऐसे में उनके कांग्रेस में शामिल होने से पार्टी को बेहतर रिजल्ट मिल सकती हैं.

सुमित्रा सिंह का कांग्रेस में शामिल होना भाजपा के लिए बड़ा झटकाsource

राजनीतिक जानकारों की माने तो सुमित्रा का कांग्रेस में शामिल होना, आने वाले विधानसभा चुनाव में बीजेपी के लिए मुश्किलें कड़ी कर सकती हैं. ये भी बता दे कि सुमित्रा विधानसभा की पहली महिला अध्यक्षा हैं. सुमित्रा ने पहली बार 1957 में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीतकर विधायक बनीं थी. उसके बाद 1962 से लगातार 7 बार झुंझुनूं से चुनाव जीतकर विधानसभा  में बनी रही.

news source

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment