≡ Menu



RTI से खुलासा : पीएम मोदी के काफिले की गाड़ियों और सुरक्षाकर्मियों पर होता हैं इतना सरकारी ख़र्च, आकड़ें हैरान कर देंगे

RTI यानी कि सूचना का अधिकार, इस अधिकार का इस्तेमाल हम किसी भी सरकारी बिभाग से जानकारी प्राप्त करने के लिए करते हैं. हाल में ही पीएमओ से RTI द्वरा कुछ सवाल पूछे गए थे. इसके तहत पूछा गया था की पीएम मोदी के पास और पीएमओं में कितनी गाड़िया है. जिसके जबाब सुन कर आप चौक जायेंगे. बताते हैं पीएमओ के तरफ से क्या जबाब मिला.

Like कीजिये हमारा फेसबुक पेज

RTI के तहत पीएमओ से पूछा गया सवालSOURCE

मिली जानकारी के अनुसार लखनऊ की आरटीआई एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के के पास कितनी गाड़ी हैं, इसके संबंध आरटीआई के तहत जानकारी मांगी थी. इसके साथ ही उन्होंने इन वाहनों के प्रकार, खरीदे जाने का साल, कीमत, प्रधानमंत्री के साथ सुरक्षा में लगे वाहनों की संख्या, और इन वाहनों पर साल 2017, 2016, 2015 तथा 2014 में खर्च हुए ईंधन की सूचना मांगी थी.

पीएमओ ने जानकारी साझा करने से किया इनकार SOURCE

आपको बता दे कि सरकार ने यह जानकारी देने से माना कर दिया. इसके सफाई में दलील दी गई कि हम सुरक्षा के कारणों के चलते ये जानकारी संझा नहीं कर सकते है. वहीँ पीएमओ के जन सूचना अधिकारी प्रवीण कुमार के मुताबिक यह मामला स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) से जुड़ा है जो आरटीआई एक्ट की धारा 24 में विरुद्ध हैं.

उपराष्ट्रपति सचिवालय की जानकारी उप्लाप्ब्ध करा दी गई SOURCE

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कुछ दिन पहले जन उपराष्ट्रपति के बारे में जानने के लिए RTI के तहत जानकारी मांगी गई थी. वहीँ कार्यालय ने यह जानकारी उप्लाप्ब्ध करा दी थी. बता दे की उपराष्ट्रपति कार्यालय के पास कुल 9  गाड़ी हैं. साथ ही उन्होंने इस गाड़ी की कीमत, 4 सालों में ईंधन के उपयोग की भी सूचना दी थी, लेकिन पीएम मोदी के बारे में पूछा गया तो जानकारी साझा करने से मना कर दिया गया.

NEWS SOURCE

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment