≡ Menu






भारत-पाक बंटवारे से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज लगे भारत के हाथ, सामने आयी सच्चाई जानकर दंग रह जायेंगे

भारत के ओर से कई सालों से ये कोशिश की जा रही थी कि आजादी के वक्त के कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज उसे किसी तरह मिल जाएं जोकि पाकिस्तान के ही पास थे. ऐसे में अब भारत की ये अधूरी ख्वाहिश अब पूरी हो गई है. जिसके चलते आखिरकार भारत को पंजाब विधानसभा का सालों पुराना रिकॉर्ड 70 साल बाद वापस मिल ही गया. इसमें कई ऐसे दस्तावेज मौजूद थे जिसमे साल 1931 से लेकर 1947 तक बंटवारे से जुड़ी कई राज दफ़न हैं.source

भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव से जुड़े कई दस्तावेज है मौजूद

सबसे ज्यादा ख़ास बात इन दस्तावेजों की ये है कि इसमें भारत के क्रांतिकारी भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को फांसी दिये जाने के दौरान के और फांसी के बाद दिए गये तमाम वो बयान शामिल हैं, जो उस वक्त विधानसभा में मौजूद सभी सदन में नेताओं द्वारा दिये गये थे.source

ये रिकॉर्ड लाने में भारत को करीब 20 साल का वक्त लग गया

शायद आप न जानते हो कि इन रिकॉर्ड को पाकिस्तान से पंजाब लाने में भारत को करीब बीस साल लग गए. क्योंकि पहले पाकिस्तान ने ये रिकॉर्ड भारत को सौपने से साफ़ मना कर दिया था. उस वक्त पाकिस्तान के अफ़सरों ने ये कहकर दस्तावेज देने से इनकार कर दिया था कि ये रिकॉर्ड आग लगने के कारण जल गए इसीलिए इसकी उनके पास केवल एक ही कॉपी मौजूद है. जिसे वो किसी भी हाल में भारत को नहीं दे सकते. हालांकि, कई सालों के लगातार प्रयासों के बाद पाकिस्तान ये रिकॉर्ड भारत को सौपने के लिए राजी हो गया जिसे उसने अब भारत को भेज दिया है.source

खबरों के अनुसार पाकिस्तान द्वारा भेजे गये बटवारे के वक्त के इन दस्तावेजों में कई चर्चित बहसों के बारे में ऐसी गुप्त जानकारी मिलती है जो इतिहास के कई राज से पर्दा उठ सकती है. इसमें से उस वक्त के मुख्यमंत्री खिजर हयात खान की वो एक दिलचस्प टिप्पणी भी मौजूद है जिसमे उन्होंने पाकिस्तान के बटवारे के वक्त साफ़ शब्दों में कहा था कि “पाकिस्तान उनकी लाश पर से होकर बनेगा.”

गौरतलब है कि अभी इन दस्तावेजों से जुड़ी सारी जानकारियां मीडिया के सामने नहीं आ पायी हैं लेकिन उम्मीद है कि इतिहास की कई दिलचस्प बातें जल्द ही दुनिया के सामने आएंगी जो कई राज खोलेंगे.

नोट: दोस्तों आपको इन दस्तावेजों को लेकर क्या कहना है..हमे अपनी राय नीचे कमेंट करके दीजिये और पसंद आए तो इसे शेयर भी करे.

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment