वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी- “फर्जी एनकाउंटर में अमित शाह को बचाने के लिए मोदी आए थे मेरे पास…”


अक्सर सुर्खियो में रहने वाले सीनियर वकील और राजद से राज्यसभा सांसद राम जेठमलानी एक बार फिर मीडिया में हेडलाइन बने हुए हैं. बता दे कि हाल में ही इन्होने पीएम मोदी को असफल प्रधानमंत्री बता कर विरोधियो ने निशाने पर आ गए थे. लेकिन इस बार उन्होंने अपने एक पत्र में  चौका देने वाला खुलासा किया हैं. चलिए जानते हैं ऐसा क्या कहा हैं ?

चौकाने वाला किया खुलासा source

आपकी जानकारी के लिए बता दे की जेठमलानी ने पत्र के माध्यम से खुलासा किया हैं की 2010 में मोदी ने उनसे नजदीकियां इसलिए बढ़ानी शुरू की थीं, ताकि वह अमित शाह को सोहराबुद्दीन हत्याकांड में बचाने के लिए उनकी कानूनी मदद ले सकें. जी हाँ यह बात खुद जेठमलानी ने कहा हैं. इस बात से सियासी में गर्माहट देखने को मिल रहा हैं. वहीँ विपक्ष को एक मुद्दा मिल चूका हैं पीएम मोदी पर जुबानी हमला करने के लिए.

बीजेपी अध्यक्ष पर साधा निशाना source

बता दे की माया कोडनानी के बाद अब वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने पीएम मोदी और बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया हैं. जेठमलानी के मुताबिक पीएम मोदी उनसे मिलने आये थे. साथ ही मोदी ने उनसे अमित शाह को सोहराबुद्दीन हत्याकांड में बचाने के लिए भी कहा था. बात दे कि अपने वकालत से सन्यांस लेने से कुछ ही दिन पहले राम जेठमलानी ने यह खुलासा किया हैं.

जाने पत्र में क्या लिखा हैं?source

आपकी जानकारी के लिए बता दे की 23 अगस्त को जेठमलानी ने एक पत्र सार्वजनिक करते हुए कहा की पीएम मोदी इतने हद तक निचे गिर सकते हैं, कभी सोचा नहीं था. साथ ही ये भी कह  दिया कि आने वाले लोकसभा चुनाव में मोदी की हार सुनिश्चित हैं. लेकिन वो सच्च्चाई  के लिए अपनी आवाज उठाने से कभी पीछे नहीं हटे हैं. उन्होंने साल 2009 में काले धन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में मामला उठाया था. उन्होंने खुलासा किया कि इस काम के लिए मोदी ने उनकी सराहना की लेकिन जब मामला अमित शाह से जुदा तो उनको बचाने के लिए मुझे कानूनी सेवाओं का इस्तेमाल करना चाहा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *