≡ Menu






दुखद: 96 साल की बूढी माँ के साथ सगे बेटे ने दिखाई इंसानियत को शर्मसार करने वाली हरकत

दुनिया के तमाम रिश्तों में से एक माँ और बेटे का रिश्ता सबसे अटूट होता है. जिसमे चाहे एक बेटा अपनी माँ को भूल भी जाये लेकिन माँ कभी अपने बेटे को नहीं भूलती. इसके पीछे शायद यही बड़ा कारण है कि एक माँ अपनी संतान को दुनियाभर से बचाकर अपनी कोख में 9 महीने तक रखती है और जन्म देने के बाद उसे अपना लाड़-प्यार देती है. एक माँ खुद भूखी रहकर अपने बेटे का पेट भरती है लेकिन सोचिए क्या गुजरती होगी उस माँ पर जिसका बेटा बड़ा होकर उसके इन सारे बलिदानों को ठोकर मारकर भूला देता है.source

ऐशो-आराम के चक्कर में 96 साल की माँ को दी सजा

ऐसा ही एक मामला हाल ही में देखने को मिला जिसे जिसने भी सुना वो रो पड़ा. जी हाँ, एक बेटा ने केवल अपने ऐशो-आराम के लिए अपनी 96 साल की बूढी माँ के साथ कुछ ऐसा कर दिया है जिसे सुनकर किसी भी इंसान का कलेजा मुंह को आ जायेगा.source

समय के साथ कमज़ोर पड़ गये रिश्ते

अगर पहले के समय पर गौर किया जाए तो तब ज्यादातर लोग अपने माता पिता की इच्छा का पालन करते नजर आते थे, लेकिन समय के साथ जहाँ टेक्नोलॉजी बढ़ी तो वहीँ मनुष्य ही मनुष्य से कब दूर चला गया इसका अंदाजा किसी को भी नहीं हुआ. आज हर व्यक्ति अपनी खुद की मर्जी का मालिक है. कई बच्चे तो अपनी नाजायज ज़िद को पूरा कराने के लिए बड़ो को ब्लैकमेल तक कर लेते है.source

जानिए क्या है पूरा मामला:-

दरअसल, आनंदपुर के रहने वाले एक बेटे ने अपनी 96 साल की माँ को घर के कमरे में सिर्फ इसलिए कैद कर दिया क्योंकि उसे छुट्टी मनाने जाना था. जी हाँ अंदर तक झकझोर देने वाली ये घटना सच है जहाँ एक बेटा अपनी बूढी माँ को कमरे में कैद करके हॉलीडे मनाने निकल गया. साबिता नाथ नाम की इस दुर्भागी माँ की बढ़ती उम्र के चलते वो बिना किसी सहारे के चल फिरने में पूरी तरह असमर्थ है बावजूद इसके साबिता नाथ का  बिकास नाम का नालायक बेटा उन्हें घर के आगे के कमरे में लॉक करके चला गया.

बेटी जब अचनाक पहुँच गई घर तो अंदर का नजारा देख उड़े होश

इस बात की जानकारी तब सामने आई जब साबिता नाथ की बेटी उनसे मिलने अचानक घर पहुंची जहाँ उसने घर को ताला लगा देखा और माँ की अंदर से आती आवाज सुनी तो उसके मानो पैरों तले जमीन ही ख़िसक गई. उसने तुरंत  पुलिस को मौके पर बुलाकर घर का दरवाजा तुड़वाया जिसमे साबिता अंदर ही बंद बर्बर हालत में मिली.source

ऑफिस से छुट्टि लेकर बेटा घुमने गया था

बताते चले कि सबिता नाथ का बेटा बिकास यूँ तो एक बैंक में अच्छी जॉब करता हैं. जिसकी तलाश करते हुए जब पुलिस बैंक पूछताछ करने पहुंची तो उनका कहना था कि बिकास ऑफिस से छुट्टि लेकर बाहर घुमने गया है. जिसके बाद कई सवाल खड़े हो गये कि आखिर बिकास ने अपनी माँ के साथ ऐसा क्यों किया, जबकि वो अच्छी तरह जनता था कि 96 साल की उसकी बूढी माँ का ख्याल रखने वाला उसके अलावा कोई और नहीं है.

नोट: दोस्तों इस कलयुगी बेटे को क्या सजा मिलनी चाहिए हमें नीचे कमेंट कर जरुर बताएं और पसंद आए तो इसे शेयर भी करे.

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment