≡ Menu



सीबीआई विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का मोदी सरकार को बड़ा झटका ! आया ये फ़ैसला

सीबीआई में भ्रष्टाचार का मामला सामने आते ही बीजेपी खेमे में हरकंप मच गाय हैं. जहाँ एक तरफ विपक्ष मोदी पर निशाना साध रही हैं, वहीँ दूसरी तरफ सुप्रीम कोर्ट ने भिमोदी सरकार की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. खबरों की माने तो सुप्रीम कोर्ट ने फटकार लगते हुए कहा हैं कि अब हटाए गए सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा के खिलाफ मामले की जांच सीवीसी करेगी.

Like कीजिये हमारा फेसबुक पेज

मामले की जांच CVC करेगी source

आपकी के लिए बता दे कि सीबीआई विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने CVC को मामले की जांच दो हफ्ते में पूरी करने का आदेश दिया है. इसी के साथ मोदी सरकार को करारा झटका मिला हैं. बता दे कि यहाँ जांच सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज एके पटनायक की मौजूदी में कराई जाएगी. हालंकि अब केस की अगली सुनवाई 12 नवम्बर को होगी.

कोर्ट ने मोदी सरकार को दिया झटका source

बता दे कि कोर्ट ने मोदी सरकार को फटकारते हुए कहा कि उनके द्वारा नियुक्त अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव को सीबीआई के हां फैसले लेना का हक़ नहीं हैं. कोर्ट ने साफ़ कर दिया की वो कोई भी हम फैसला नहीं ले सकते हैं. कोर्ट के आदेश के बाद नागेश्वर राव महज रूटीन काम कर सकते हैं. इसका ये मतलब हुआ कि नागेश्वर राव को किसी भी केस को खोलने अथवा बंद करने, किसी बड़े अफसर का तबादला करने जैसे फैसले नहीं ले सकते हैं.

संजय सिंह ने भी मोदी पर साधा निशाना source

इस मामले पर आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने चुकती लेते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार के मुंह पर तमाचा मारा है. आगे कहा कि नागेश्वर राव को किसी भी प्रकार का फैसले लेने से रोकन यह दर्शाता हैं कि उनकी नियुक्ति गलत तरीके से हुई थी. इतना ही नहीं उन्होंने ये भी कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने नागेश्वर राव द्वारा लिए गए फैसलों की जानकारी समय समय पर माँगा हैं. इस बात से साफ़ हैं की मोदी सरकार के इशारे पर CBI काम कर रही थी.

NEWS SOURCE

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment