गुजरात से घर लौट रहे यूपी-बिहार के लोगों का दर्द कुछ इस अंदाज़ में छलका की आप भी सुनकर दंग रह जायेंगे !


आपको बता दे कि गुजरात के साबरकांठा जिले में 14 महीने की बच्ची से रेप के बाद से वहां का माहोल हिंसा जैसा बनता जा रहा हैं. घटना के बाद से ही वहां के लोकल लोगो ने बिहार यूपी और एमपी के लोगों को निशाना बना रहे हैं. इस घटना के बाद से ही बिहार,एमपी के लोगो ने दशत सा माहोल बन गया हैं. लोग दर के कारण समहे हुए हैं. चलिए जानते हैं आखिर पूरा माजरा क्या हैं.

क्या हैं पूरा मामलाsource

बताया जा राह हैं कि गुजरात के साबरकांठा में 14 वर्षीय किशोरी के साथ बिहार के युवक द्वारा दुष्कर्मका मामला सामने आया था. इसके बाद से ही गुजरात का माहोल बिगड़ने लगा था. आपको बता दे कि गुजरात से लौटे आदमी ने बताया कि कुछ संगठन के लोगों ने आठ अक्टूबर तक अपने राज्य लौट जाने की धमकी दी हैं. साथ ही ये भी कहा हैं की अगर नहीं गए तो तुमलोग को जान से मार दिया जायेगा.

ध्यान दें प्रधानमंत्री मोदीsource

आपको बता दे कि सूरत में कपड़ा दुकान में काम करने वाले जियालाल ने बताया कि मै 26 साल से गुजरात में काम कर रहा हूँ. आगे उन्होंने कहा कि मुझे सिर्फ 8000 रूपया दिया जाता हैं. बस किसी तरह इस महंगाई के ज़माने में गुजर बसर करता हूँ. साथ ही उन्होंने पीएम मोदी से जुगारिश किया हैं कि इस तरह चला हो हमरे परिवार वाले क्या खायेंगे? इस दिसा में पीएम मोदी को कुछ करना चाहिए.

गुजरात का ऐसा रूप पहली बार देखाsource

वहीँ गुजरात से बिहार लौटे आदमी ने अपन दुखर सुनते हुए कहा की पहली बार गुजरात के लोगों का ऐसा चेहरा देखने को मिला हैं. मै २० साल से वहां रहती थी, लेकिन आज तक किसी ने ऐसा नहीं किया. मै नहीं जानती हूँ की इसके पीछे नेता का हाथ हैं या नहीं, लेकिन देश के पीएम होने के नाते मोदी को इस मामले को जल्द से जल्द सुलझाना चाहिए.

खुद देखें वीडियो:-

गुजरात हिंसा: उत्तर भारतीयों का पलायन जारी, खुद सुनायी आपबीती, देखिए ये ग्राउंड रिपोर्ट

गुजरात हिंसा: उत्तर भारतीयों का पलायन जारी, खुद सुनायी आपबीती, देखिए ये ग्राउंड रिपोर्ट

ABP News यांनी वर पोस्ट केले सोमवार, ८ ऑक्टोबर, २०१८

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *