≡ Menu






सबसे बड़ी रिपोर्ट लीक : पिछले 20 वर्षो के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची बेरोज़गारी , देखें आकडे

सत्ता में आने से पहले बीजेपी उम्मीदवार मोदी ने भी जानत से काफी लुभावने वादे किये थे. हालांकि वो अलग बात है की बाद में मोदी ने इसे चुनावी जुमला बोल कर लोगों को अच्छी तरह से उल्लू बनाया. इतना ही नहीं मोदी सरकार द्वारा लागू किये गए नोटबंदी के बाद देश में बेरोजगारी दिन प्रतिदिन घटती जा रही है. हालांकि में हुए एक रिसर्च के अकडो ने सबको चौंका दिया है.

बेरोजगारी ने तोडे सारे रिकॉर्डsource

हाल ही में एक रिसर्च से पता चला हैं कि बीते 4 सालो में यानि कि मोदी सरकार में युवाओं की बेरोजगारी दर घटाकर 16 प्रतिशत हो गयी है. बेरोजगारी ने पिछले 20 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. मोदी राज में विकास के नाम पर शहरों का नाम बदल दिया जाता हैं. इनके पास विकास करने का कोई एजेंडा ही मौजूद नहीं हैं. बीजेपी पार्टी का काम ही हैं लोगों को धर्म के नाम पर बांटना

रिपोर्ट में हुआ खुलासा source

हाल ही के दिनों में जारी रिपोर्ट से पता चला हैं की देश में सबसे निचले स्तर पर बेरोजगारी पहुंच चुकी है. इसका सीधा असर हमारे देश की अर्थव्यवस्था पर पड रहा हैं. आये दिन रुपये की गिरती कीमत से अंदाजा लगाया जा सकता हैं. इस रिपोर्ट के मुताबिक बेरोजगारी का आलम सारे देश में हैं, लेकिन कुछ चुनिंदा राज्यों में इसका असर कुछ ज्यादा ही देखने को मिला है. उन राज्यों में उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश शामिल हैं.

अजीम प्रेमजी विश्वविद्यालय द्वारा अध्ययन में हुआ खुलासा source

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि अजीम प्रेमजी विश्वविद्यालय द्वारा किए गए एक अध्ययन में पता चला हैं की भारत मेंबेरोजगारी की 2 मुख्य वजह है. पहली यह कि मोदी राज में किसी भी छेत्र में वैकैंसीय न निकले की वजह देश में बेरोजगारी बढ़ रही है, वहीं इस रिपोर्ट में यह बात भी सामने आया है कि देश में नौकरियों को लेकर पहले के मुकाबले और बुरा हाल हो गया है.

news source 

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment