≡ Menu






Video : योगीराज में UP के पुलिसवाले भी नहीं हैं सुरक्षित !

उत्तरप्रदेश की सत्ता पर काबिज़ होने के लिए मोदी जी ने न जाने कितने वायदे किये थे | उनमें से एक था UP में कानून व्यवस्था ठीक करना | कानून व्यवस्था ठीक करने में सबसे बड़ा योगदान होता है पुलिस का | मगर योगीराज आए अभी महीनाभर ही हुआ है और हालत यह है की पुलिसवालों को ही सड़कों पर बुरी तरह से पीटा जा रहा है |

कही पुलिस के बड़े-बड़े अफसरों को गुंडे मार रहे हैं तो कहीं तो किसी IPS अफसर के घर पर हमलाकर उसे परेशान किया जा रहा है | कुछ वाक्ये देखिये :

  1. पुलिस अफसर की हुई पिटाई, साथी पुलिसवाले भी कुछ नहीं कर पाए

उत्तरप्रदेश में गुंडे किस कदर बेखौफ हो गए हैं इसका अंदाज़ा लगाइये ज़रा | इतनी बड़ी रैंक के पुलिसवाले को पूरी पुलिस फ़ोर्स के सामने इस तरीके से पीटना क्या आम बात है ? और आस-पास कोई कुछ कर भी नहीं रहा | यह कैसी कानून व्यवस्था है ?

2. जबरदस्ती SSP के घर में घुस गए BJP संसद के गुंडे

यूपी के सहारनपुर में अंबेडकर जयंती की शोभायात्रा के दौरान दो गुटों में झड़प हुई और उसके बाद इलाके के SSP के घर में तोड़फोड़ कर दी गयी | जब वह घर पर नहीं थे तब उनके घर में जबरदस्ती गुंडे घुस गए | उनकी पत्नी और दो छोटे बच्चे ने भीड़ से डरकर खुद को एक कमरे में बंद कर लिया | इसका सीधा आरोप BJP सांसद राघव लखनपाल पर है यहां तक कि उनपर केस दर्ज किया गया है | सांसद के 8 समर्थकों पर भी केस दर्ज हुआ है |

3. आगरा में गुंडों ने पुलिसवालो को पीटा, आगज़नी की और कैदियों को भागने की कोशिश भी की

आरोप है कि यूपी में आगरा के फतेहपुर सीकरी इलाके में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने पुलिस थाने पर पथराव कर अछनेरा के सीओ रविकांत पाराशर से मारपीट भी की | इन लोगों ने हवालात तोड़कर पांच आरोपियों को छुड़ाने का भी प्रयास किया | कथित रूप से सड़क चौकी प्रभारी केदार नगर को घेरकर पीटा गया | पिस्टल लूटने के बाद बाइक में आग लगा दी गई. इस मामले में बजरंग दल के पांच कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है |

आप ही बताइये, क्या इसे कानून व्यवस्था ठीक करना कहते हैं ? सोचिये जिस राज्य कि पुलिस को ही सड़कों पर बुरी तरह से पीटा जा रहा है वहां आम जनता के साथ क्या होगा ? क्या इसी कानून व्यवस्था को ठीक करने कि बात करते थे मोदी जी अपनी रैलियों में ?

भगवा-आतंकवाद कि यह खबरें उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों से आई है | जबकि सरकार बने अभी ज़्यादा वक्त भी नहीं गुज़रा | आगे-आगे देखिये कैसी-कैसी खबरें आती है | और अगर इसी तरीके से UP में कानून के हाथ बंधे रहे तो यकीनन जनता का तो भगवान् ही मालिक है |

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment